खाटू मंदिर में वीआईपी दर्शन पूरी तरह बंद - VIP Darshan in Khatu Shyam Ji

खाटू मंदिर में वीआईपी दर्शन पूरी तरह बंद - VIP Darshan in Khatu Shyam Ji, इसमें खाटू श्याम मंदिर में वीआईपी दर्शन के बारे में ताजा जानकारी है।

VIP Darshan completely closed in Khatu Shyam temple

मंदिर में वीआइपी दर्शन व्यवस्था को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। अब आपको दर्शनों के लिए किसी की हेल्प लेने की जरूरत नहीं है। आप सीधा मंदिर में जाकर दर्शन कर सकते हैं।

अभी आम श्रद्धालुओं के लिए दर्शन बुकिंग की कोई जरूरत नहीं है, अभी आप जाकर सीधा दर्शन कर सकते हो, लेकिन जल्द ही मंदिर में तिरुपति बालाजी की तर्ज पर दर्शन चालू होंगे जिसमे बिना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के दर्शन नहीं होंगे।

खाटू श्याम मंदिर में वीआईपी दर्शन कैसे करें?, Khatu Shyam Mandir Me VIP Darshan Kaise Karen?


आधिकारिक रूप से मंदिर में वीआईपी दर्शन व्यवस्था नहीं है। अब मंदिर में नई दर्शन व्यवस्था के अंतर्गत दर्शनों को आसान बनाने के लिए 16 लाइन बनाई गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सबसे पहली लाइन को वीआईपी, वृद्धजन और दिव्यांगों के लिए आरक्षित रखा जायेगा यानि इस लाइन में सिर्फ ये लोग ही दर्शन कर पाएँगे।


लेकिन इन लोगों को इस तरीके से दर्शन करने के लिए श्याम मंदिर की वेबसाइट ShriShyamMandir.com पर ऑनलाइन बुकिंग करनी पड़ेगी।

वैसे भी देश में जिन मंदिरों में वीआईपी दर्शन करवाए जाते हैं वहाँ इनके लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन बुकिंग होती है और इसके शुल्क की रसीद भी मिलती है।

खाटू श्याम मंदिर का फोन कोई उठाता ही नहीं, Khatu Shyam Mandir Ka Phone Koi Receive Nahi Karta


मंदिर कमेटी के लिए एक शिकायत बताई जाती है कि खाटू श्यामजी मंदिर के पब्लिक डोमेन में दिए गए दोनों लैंडलाइन फोन या तो काम नहीं करते या रिसीव नहीं किये जाते।

अगर किसी भक्त को मंदिर में संपर्क करना हो तो मंदिर की वेबसाइट पर मंदिर के लैंडलाइन नंबर तो मिल जाते हैं लेकिन इन पर कभी बात नहीं हो पाती।

श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए प्रशासन को इस तरफ ध्यान देकर 24 घंटे काम करने वाली ऐसी हेल्पलाइन शुरू होनी चाहिए जिस पर कॉल करने पर फोन रिसीव हो।

लेखक

उमा व्यास {एमए (शिक्षा), एमए (लोक प्रशासन), एमए (राजनीति विज्ञान), एमए (इतिहास), बीएड}
GoJTR.com

GoJTR - Guide of Journey To Rajasthan provides information related to travel and tourism, arts and culture, religious, festivals, personalities, etc. It tells about the various travel destinations of Rajasthan and their historical and cultural importance. It discovers the hidden aspects of Indian historical background and heritages. These heritages are Forts, Castles, Fortresses, Cenotaphs or Chhatris, Kunds, Step Wells or Baoris, Tombs, Temples and different types of monuments, related to Indian historical glory.

एक टिप्पणी भेजें

श्याम बाबा की कृपा पाने के लिए कमेन्ट बॉक्स में - जय श्री श्याम - लिखकर जयकार जरूर लगाएँ और साथ में बाबा श्याम का चमत्कारी मंत्र - ॐ श्री श्याम देवाय नमः - जरूर बोले।

और नया पुराने

Advertisement

Advertisement