खाटूश्यामजी मंदिर में भगदड़ से तीन श्रद्धालुओं की मौत की घटना के बाद व्यवस्थाओं में कई बड़े बदलाव किए हैं जिसके तहत अब मंदिर शनिवार-रविवार, एकादशी-द्वादशी, त्योहार और अन्य सरकारी अवकाश के दिन चौबीसों घंटे खुला रहेगा.

Big change in the timing of darshan in Khatushyamji temple

इस समयावधि में बाबा श्याम का शयन 6 घंटे से घटाकर केवल एक-दो मिनट और भोग का समय आधा घंटे से घटाकर 15 मिनट कर दिया गया है. गौरतलब है कि पहले मंदिर में 6 घंटे का शयन और आधा घंटे भोग-प्रसाद लगता था.

Big change in the timing of darshan in Khatushyamji temple


साथ ही अमावस्या के बाद होने वाले तिलक की सूचना भी एडवांस में ही मीडिया के जरिए श्रद्धालुओं को देनी होगी. छुट्‌टी के दिन व त्यौहार के मौके पर भोग आरती आधा घंटे के बजाय 15 मिनट की होगी.

बता दें कि अभी बाबा श्याम की नियमित तौर पर पाँच आरती होती है जिनमे सबसे पहले सुबह मंगला आरती, 7 बजे श्रृंगार आरती, 12.30 भोग आरती, शाम को ग्वाला आरती और रात को शयन आरती होती है.

अगस्त-सितंबर में 5 मौके, जब लगातार 3-3 दिन छुट्‌टी, 24 घंटे खुलेगा मंदिर


अगस्त से सितंबर तक कई बार दो से तीन दिन लगातार छुट्‌टी रहने की वजह से खाटूश्यामजी के मंदिर में 19 दिन श्रद्धालुओं की अधिक भीड़ रहने की उम्मीद है.

13 अगस्त को शनिवार, 14 को रविवार, 15 को स्वतंत्रता दिवस तथा 19 को कृष्ण जन्माष्टी, 20 को शनिवार व 21 रविवार की छुट्‌टी रहेगी. 27 को शनिवार, 28 को रविवार का अवकाश रहेगा.


सितंबर महीने में आठ दिन शनिवार-रविवार, पाँच अगस्त को शिक्षक दिवस, 26 सितंबर को नवरात्र स्थापना की छुट्‌टी रहेगी. नवरात्र स्थापना से पहले शनिवार-रविवार की छुट्‌टी है. शिक्षक दिवस से पहले शनिवार-रविवार की छुट्‌टी है.